April 17, 2021

Real News Bihar – Today Breaking News

Aaj Ki Taja Khabar, Samachar

दुर्गा विसर्जन के दौरान गोली कांड में अनुराग की मौत के बाद मिर्तक के परिजनों को संतावना देने के लिए अब छोटे नेता से लेकर बड़े नेता भी अनुराग के घर पहुँच रहे हैं।

मुंगेर में 26 अक्टूबर को दुर्गा विसर्जन के दौरान गोली कांड में अनुराग की मौत के बाद मिर्तक के परिजनों को संतावना देने के लिए अब छोटे नेता से लेकर बड़े नेता भी अनुराग के घर पहुँच रहे हैं। इसी क्रम में मुंगेर में बीती रात भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कालियाँन मंत्री अस्वनी चौबे और उनकी बहु एवं पुत्र सास्वत चौबे भी मिर्तक अनुराग के घर पहुचे और घर वालो को संतावना भी दिया और पूरा घटनाक्रम की जानकारी परिजनों से लिया बिहार में गठबंधन रहते हुए भी बिहार सरकार पर हमलावर होते हुए दिखाई दिए पिता और पुत्र अस्वनी चौबे ने मीडिया से कहा कि इस घटना के बाद लगातार पीड़ित परिवारवालों से बात चीत होती रही है। मै यहाँ मंत्री के नाते नही और न सरकार के नाते आया हु मैं व्यक्तिगत रूप से मिलने आया हु। इस परिवार के साथ जो घटनाएं हुई। वो अत्तियत निन्दनीय है। दुर्भाग्यपूर्ण और यह पुलिस के लोगो का हाथ है। इसमें कोई दोतम नही है।पुलिस के द्वारा पागलपन का परिचय पुलिस के द्वारा दिया गया है। इस मामले की न्यायिक जांच एवं उच्य स्तर जाँच होनो चाहिए और सरकार इसको कर रही है। दोषियों को सजा मिलना चाहिए। अस्वनी चौबीस ने यह भी कहा कि भविष्य में यह घटना दुबारा न घटे इसकी व्यवस्था बिहार सरकार को करना चाहिए जब मीडिया के लोगो से अस्वनी चौबे से सवाल किया कि इस मामले में बिहार सरकार पर दवाब बनाया जाएगा तो चौबे ने कहा कि निश्चित इस मामले में बिहार सरकार पर दवाब बनाया जाएगा और बिहार सरकार को निश्चित रूप से कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए। इस मामले में अस्वनी चौबे के पुत्र सास्वत चौबे ने कहा कि जो भी दोषी है जब तक उनको सजा नही मिलेगी हम लोग यह धारणा पर बैठने का काम और बिहार सरकार से मांग की परिवार के लिए क्या किया है अभी तक कोई सुरक्षा नही दिया गया है। और रक्षक भक्षक बने हुए हैं। वो लोग कहा है। और बिहार सरकार यह बोल के छुप नही सकता है। और अभी हमलोग का अनुशासन यही है हमलोग का चुनाव प्रकिर्या चल रहा था और चुनाव आयोग के दायरे में सब कुछ हो रहा था। और इस मामले में हमलोगों को जहाँ भी जाना होगा हम सभी लोग जाएगे हम मुंगेर को जलने नही देगे।