September 17, 2021

Real News Bihar – Today Breaking News

Aaj Ki Taja Khabar, Samachar

शिक्षक दिवस पर गुरुजनों को किया गया समान्नित ।

 पश्चमी चंपारण :-  1924 ईसवी में इस संस्कृत पाठशाला में महात्मा गांधी का हुआ था आगमन । दर्जनों गुरुजनों को किया गया समान्नित।   बगहा में संस्कृत विद्यालय में राजकीयकृत हरदेव प्रसाद इंटरमीडिएट कॉलेज मधुबनी के पूर्व प्राचार्य पंडित भरत उपाध्याय का शिक्षक दिवस के अवसर पर आयुर्वेदिक श्री चंद्रोदय संस्कृत प्राथमिक सहमध्य विद्यालय ,रतन माला, अद्वितीय सम्मान के साथ किया गया समान्नित। इस स्मान्न समारोह की अध्यक्षता वरिष्ठ अधिवक्ता गजेंद्रधर मिश्र ने किया। इसके दौरान पंडित भरत उपाध्याय ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्वच्छ छवि किसी भी आदर्श शिक्षक का सर्वोत्तम गुण है।

हम उनके मार्गदर्शन में नई उर्जा के साथ सभी नित्य निरंतर आगे बढ़ते रहेंगे। इस अवसर पर अधिवक्ता गजेंद्रधर मिश्र ने गुरु उपाध्याय जी के बीते अतीत के सर्वोत्तम शिक्षाविद विचारों को प्रकट करते हुए भूरि भूरि प्रसंशा किया।साथ ही उन्होंने कहा कि गुरुजी अपने जीवन काल में समाज में तथा अपने शिष्यों के बीच शिक्षा के महत्व पर पूरी तरह से योगदान दिया। जो गंडक नदी पार के धनहा व वाल्मीकिनगर विधानसभा क्षेत्र के लोगों के ऊपर गहरी छाप छोड़ा है । जो लोगों के दिल में आज भी गुरुजी के पदचिन्हों पर चलने की विवस हैं। इस संदर्भ में अनेक गुरुजनों सुनील कुमार गुप्ता , शफीउल्लाह ,मनीष कुमार ,अब्दुल, नीरज कुमार ने अपना विचार ब्यक्त करते हुए कहा कि गुरुजी से सीखने को मिला वह आजीवन धरोहर के रूप में यह प्रसाद के रूप में प्रसांगिक बना रहेगा।

रिपोर्ट – नरेंदर पाण्डेय