April 17, 2021

Real News Bihar – Today Breaking News

Aaj Ki Taja Khabar, Samachar

बस स्टैंड से रेलवे ढाला तक लगे लम्बे जाम में फंसी गाड़ियां, यात्रियों को हुई परेशानी

पश्चिम चंपारण:  दीपावली छठ पर्व के अवसर पर दुकानों, बाजारों में चहलपहल भीड़ बढ़ गई है लोग खरीददारी के लिए बाजारों में निकल रहें हैं। वहीं चीनी मिल चालू होने से गन्ना लदे वाहनों का परिचालन भी स्वाभाविक है। बगहा रेलवे ढाला पर ओभर ब्रिज नहीं होने, लोगों द्वारा आगे निकलने की होड़, बेतरतीब वाहन परिचालन, सड़क किनारे अतिक्रमण, स्थायी बस एवं टेंपू स्टैंड नहीं होना आदि कारणों से नगर में जाम की समस्या बढ़ती जा रही है। जाम में वाहनों के फंसने से यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जिससे जनता को में दिन ब दिन रोष बढ़ता जा रहा है। लोगों का कहना है कि आरओबी नहीं होने के कारण बगहा में आए दिन जाम की समस्या से जूझना पड़ता है। शिलान्यास के बावजूद बगहा में आरओबी नहीं बनना निराशाजनक है। राजेंद्र पडित, अभय कुमार, रविंद्र चौरसिया, बैजनाथ प्रसाद ,अनिल चौरसिया आदि स्थानीय लोगों का कहना है कि बगहा जिला बन जाए तो क्षेत्र में काफी बदलाव आएगा जिससे विकास की संभावनाएँ बढ़ेंगी। उम्मीद एवं विश्वास है बगहा जिला बनेगा। वहीं जाम की समस्या को लेकर कहना है कि आरओबी बनने से शहर में वाहनों का दबाव कम होगा। फिलहाल यदि गन्ना लदे वाहनों एवं अन्य भारी वाहनों का परिचालन दिन में बंद कर सुबह 6 बजे से पूर्व एवं रात्रि 8 बजे के बाद हो, वाहनों के पार्किंग की व्यस्था हो तथा नगर में स्थायी बस व ऑटो स्टैंड बने, लोग अपने अपने लेन में वाहनों का परिचालन करें, सड़क किनारे से अतिक्रमण हटे तो जाम की समस्या काफी हद तक कुछ कम होगी तथा त्योहारी सीजन में लोगों को आवागमन में परेशानी नहीं होगी। स्थानीय सुदूर गाँव, गंडक पार सीमावर्ती क्षेत्रों के लोगों को विभिन्न कामों से बगहा अनुमंडल, अस्पताल आना ही पड़ता है ऐसे में नगर में भीड़ होना स्वाभाविक है इसको ध्यान में रखते हुए योजना बनाने की आवश्यकता है ताकि नगर के विकास के साथ-साथ लोगों को सहूलियत हो।

 

रिपोर्ट ,निर्भय कुमार